Sunday, June 24, 2018

गठिया का दर्द दूर करेगा कच्चा पपीता

पिएँ कच्चे पपीते का जूस:

अगर आपको रह-रह कर पैर की उंगलियों, घुटनों और एड़ियों में दर्द होता है तो समझ जाइये कि आपके खून में यूरिक ऐसिड की मात्रा बढ़ गई है। यह हाथ-पैरों के जोड़ों में क्रिस्टल के रूप में जम जाता है और इसे ही गठिया कहते हैं। इस परेशानी को कच्चे पपीते का जूस पीने से दूर किया जा सकता है।

कैसे बनायेंगे ग्रीन पापाया जूस:

पपीते का जूस बनाने के लिए 2 लीटर साफ पानी उबालें। इसके बाद कच्चे पपीता के बीज निकाल कर फेंक दें और उसके छोटे-छोटे टुकड़े कर लें। अब इन टुकड़ों को उबलते पानी में डालकर 5 मिनट तक उबालें। साथ ही इस उबले पानी में 2 चम्मच ग्रीन टी की पत्तियां डालकर फिर उबालें। अब इसे छानकर, ठंडा कर के पी लीजिये|

आर्थराइटिस के कारण:

लेकिन इस बीमारी के कारण क्या है? आपके शरीर में ऐस्ट्रोजन की कमी की वजह से आर्थराइटिस होता है जिसे आम बोलचाल की भाषा में गठिया कहते हैं। यह समस्या महिलाओं में अधिक होती है।थाइरॉइड के कारण भी गठिया की बीमारी हो सकती है। साथ ही अगर आपको त्वचा या खून संबंधित बीमारी है तो इसके कारण भी हड्डियों और जोड़ों में दर्द होना शुरू हो जाता है। और अगर आपके शरीर में आयरन और कैल्शियम की मात्रा अधिक है तो भी आपको यह समस्या हो सकती है।

लेकिन इससे बचाव कैसे करें?

यदि आपका वज़न अधिक है तो सबसे पहले अपना वज़न घटाएं क्योंकि ज़्यादा वज़न होने से घुटने और कूल्हों पर दबाव पड़ता है| कसरत करें और जोड़ों को हिलाएं, ऐसा रोज़ करने से आपको बहुत आराम मिलेगी। साथ ही समय-समय पर अपनी दवा लेते रहें, इनसे दर्द और अकड़न में राहत मिलती है। इसके इलावा आप रोज़ सुबह गरम पानी से नहाएं इससे आपकी हड्डिया रिलैक्स होंगी|

तला हुआ या पैकेज्ड फूड जैसे- फ्राइड मीट, फ्रोजन वेजिटेबल्स की जगह ताजे फल और सब्जियां खाएं| आर्थराइटिस के पेशेंट को ओवर-हीटेड और ग्रिल्ड खाना खाने से भी बचना चाहिए। यह बात आपका जानना ज़रूरी है की शराब और तंबाकू से जोड़ों का दर्द तो तेज़ होता है इसलिए इनका सेवन न करें| ज्यादा मीठा खाने से भी सूजन बढ़ सकती है इसलिए कोशिश करें कि मीठा कम खाएं|

The post गठिया का दर्द दूर करेगा कच्चा पपीता appeared first on SocialPost.