Sunday, December 16, 2018
मुख्य समाचार मनोरंजन राष्ट्रीय राजनीति लाइफ स्टाइल स्वास्थ

चिम्बरम और बेटे के घर ईडी का छापा, कांग्रेस ने बताया प्रतिशोध की राजनीति

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम के चेन्नई व दिल्ली स्थित ठिकानों पर ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) ने 13 जनवरी को छापेमारी की है। ईडी ने एयरसेल-मैक्सिस डील मामले को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने इसी मामले में गत वर्ष 1 दिसंबर को कार्ति के रिश्तेदारों समेत अन्य लोगों के ठिकानों पर छापेमारी की थी। चिदंबरम के बेटे पर मनीलांड्रिंग का आरोप है।

ईडी ने दिल्ली के जंगपुरा और चेन्नई के चार अन्य ठिकानों पर छापे मारे है। छापेमारी के दौरान चिदंबरम और कार्ति घर पर मौजूद नहीं थे। ईडी अधिकारियों ने चिदंबरम के कमरों और किचन की भी तलाशी ली।

कांग्रेस नेता चिदंबरम ने कहा कि ईडी अधिकारियों को छापे मारी में कुछ नहीं मिला, लेकिन खुद को सही साबित करने के लिए वे कुछ पेपर ले गए हैं। पी चिदंबरम ने कहा, ‘इस संबंध में सीबीआई या फिर अन्य किसी एजेंसी द्वारा कोई भी एफआईआर नहीं हुई है। मुझे इस छापेमारी का अंदाजा था। ईडी को पीएमएलए के तहत जांच का कोई अधिकार नहीं है।’

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने ईडी और सीबीआई को नोटिस जारी कर सवाल किया है। कोर्ट ने जवाब में पूछा कि वे चिदंबरम के ठिकानों पर किस आधार पर जांच-पड़ताल कर रहे हैं जबकि उनके खिलाफ कोई एफआईआर दर्ज नहीं है। हालांकि कोर्ट ने इस मामले में कोई आदेश जारी नहीं किया है।

ईडी की इस छापेमारी पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। रणदीप सुरजेवाला ने इस छापेमारी को हास्यास्पद करार देते हुए इसे बीजेपी सरकार का प्रतिशोध करार दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकारी एजेंसियों के जरिए विरोधियों से बदला लेने साजिश कर रहे हैं।

The post चिम्बरम और बेटे के घर ईडी का छापा, कांग्रेस ने बताया प्रतिशोध की राजनीति appeared first on SocialPost.